तत्वबोध : बुद्धि और विवेक द्वारा दूर की गयी निर्धनता


भारत देश अपने प्राचीन ज्ञान और बुद्धिमता के लिए हजारों वर्षों तक विश्व गुरु के पद पर विराजमान रहा है| 
हमारी संस्कृति में गुह्य ज्ञान को कहानियों के माध्यम से सरल बना कर समझाने की परंपरा हमेशा से रही है.

यहाँ उस महान ज्ञान के सूत्र को छोटी कहानियों के माध्यम से प्रस्तुत कर तत्वज्ञान को सामने लाने का प्रयास किया गया है, जो हमारे लिए बहुत ही अमूल्य सिद्ध होगी.

आज की कहानी है : बुद्धि और विवेक द्वारा दूर की गयी निर्धनता

Kahaniyan, कहानियाँ, तत्वबोध, बुद्धि और विवेक द्वारा दूर की गयी निर्धनता , Use Of Intellect And Sanity For Being Sufficient

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *