जल्द ही एंड्राइड एप इनस्टॉल करना होगा और आसान

अभी तक कोई भी एंड्राइड एप इनस्टॉल करने के लिए हमें पहले एंड्राइड एप प्ले स्टोर में जाना पड़ता है और वहां से एप को इनस्टॉल करना पड़ता है, लेकिन अब ये प्रक्रिया थोड़ी सरल होने वाली है|


कैसे सरल हो जायेगा एंड्राइड एप इनस्टॉल करना?

इस फीचर के आने के बाद आप किसी भी एप को एंड्राइड एप स्टोर में जाकर खोजने और इनस्टॉल करने के बजाय सीधे गूगल खोज से ही इनस्टॉल कर सकेंगे|
गूगल का यह प्रायोगिक फीचर कुछ लोगों के फ़ोन पर प्रारंभ भी हो चुका है, जिससे लगता है कि कुछ समय बाद यह फीचर सभी एंड्राइड फ़ोन में चालू हो जायेगा|
इस फीचर के चालू होने के बाद, गूगल खोज परिणामों में आने वाले एप को आप वहीँ से सीधे इनस्टॉल कर पाएंगे|
इस प्रक्रिया की खास बात यह है कि एप को इनस्टॉल करने के दौरान आपको मोबाइल के प्ले स्टोर में नहीं जाना होगा| यह फीचर अभी तक जारी नहीं हुआ है, लेकिन आशा है कि जल्द ही यह सभी एंड्राइड फ़ोन पर उपलब्ध होगा |

One Reply to “जल्द ही एंड्राइड एप इनस्टॉल करना होगा और आसान”

  1. અખિલ બ્રહ્માંડમાં એક તું શ્રી હરિ, જૂજવે રૂપે અનંત ભાસે,

    દેહમાં દેવ તું, તેજમાં તત્વ તું, શૂન્યમાં શબ્દ થઇ વેદ વાસે,

    પવન તું પાણી તું ભૂમિ તું ભૂધરા, વૃક્ષ થઈ ફૂલી રહ્યો આકાશે,

    વિવિધ રચના કરી અનેક રસ લેવાને, શિવ થકી જીવ થયો એ જ આશે…..

    Do you know what moksha is ? Getting rid of non existent misery and attaining the bliss which is always there, that is Moksha.
    क्या आप जानते है, मोक्ष कीसे कहते है ? गैर मौजूद दु:ख जो जड वस्तुओं से प्राप्त होता है और इन्हीं जड वस्तुओं की खुशी जो सदा नहीं रहती इन दोनो से छूटकारा ही मोक्ष है। जो आसान तो नहि है पर ऐसी जिज्ञासा बनाए रखने मे कोई बूराई तो नही है। जो जड वस्तुसे प्राप्त होता दु:ख जो कही नहीं है फिर भी अनुभव होता है, पर परमानंद जो सदासे प्राप्त है जीससे सब सुखदुखकी अनुभूति होती है वह परमानंदकी अनुभूति अर्थात मोक्ष है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *