पुदीने के उपयोगिता को समझो और रोगों से मुक्ति पाओ

 

पुदीने के उपयोगिता को समझो और रोगों से मुक्ति पाओ

जब हमें कोई छोटी-छोटी और बिलकुल साधारण सी भी बीमारी हो जाती है तो हम बिलकुल घबरा जाते हैं परन्तु जब हमें किसी भी प्रकार के रोग मुक्त नुस्खे का पता हो तो हम घबराने की बजाए उसका इलाज कर सकते हैं।


हमारी किसी को इन नुस्खों के बारे में भली-भांति पता हो तो उनसे हमें अच्छे अच्छे नुस्खों से बारे में पूछने में लापरवाही नही करनी चाहिए।
आज ऐसे ही कुछ पुदीने के महत्वपूर्ण नुस्खों के बारे में बात करने वाले हैं जिससे रोगों से छुटकारा पाया जा सकता है।

 

1. जब हैजा हो जाये तब पुदीने का जादू देखें- जब किसी बच्चे या व्यक्ति को हैजा हो जाये तो आप उसे प्याज, नींबू और पुदीने का रस बराबर मात्रा में अच्छी तरह से मिलाकर उसे पिलायें। और अगर साथ में अगर ज्यादा उल्टी दस्त हो तो आप 1/2 कप पुदीने के रस को हर 2 घंटे के बाद पिलायें। बहुत अधिक लाभदायक है ये।
2. पेट दर्द का इलाज पुदीने से – जब पेट दर्द हो तो 3-4 ग्राम पुदीने के रस के साथ हींग, जीरा और काली मिर्च और थोड़ा सा साधारण नमक लेके उसे ताता (गर्म) करके पीने से लाभ मिलता है।
3. प्रसव के समय- प्रसव-वेदना के समय थोड़ा पुदीने का रस पिलाने से प्रसव ठीक ठाक आसानी से हो जाता है।
4. बिच्छू के काटने पर – जब बिच्छू काट लेता है तो उस काटे हुए स्थान पर पुदीने के पत्तों को कूट कर लगाने से बिच्छू का जहर कम हो जाता है और साथ में दर्द में भी आराम होता है।
5. जब हिचकी ना रुके – पुदीने की कुछ पत्तियों को मिश्री और सौंफ साथ ही काली मिर्च को अच्छी प्रकार से पीस लें। पीसने के बाद आप उसे निचोड़। निचोड़ कर निचोड़े हुए रस में से एक चम्मच रस को गुन गुने पानी के साथ लेने से हिचकी जल्दी ठीक हो जाती है।
6. बुखार में पुदीने का उपयोग- थोडे से पुदीने को चीनी के साथ पानी में उबालकर चाय की तरह बनाकर पीने से आपके बुखार में लाभ के साथ साथ निर्बलता को भी दूर करता है।
7. पुदीने के हरे पत्तों को चबाने से मुँह की दुर्गंध दूर हो जाती है।
8. चेहरे की गर्मी निकालने के लिए- पुदीने की हरी पत्तियां लेके उन्हें पीसकर अपने चेहरे पर लगाकर कुछ देर बाद पानी से धो लें। आपके चेहरे की गर्मी दूर हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *