LAN की कुछ खास बातें जाननी जरूरी होती है


LAN का मतलब होता है  लोकल एरिया नेटवर्क इसी को लैन बोलते है।


आइए जानते है, LAN की ख़ासियत और उपयोगिता


जहाँ पर किन्हीं दो या दो से अधिक के बीच आपसी नेटवर्क के साथ जुड़े हो तो उसे लैन (LAN) कहा जाता है। LAN का जो दायरा होता है वो थोडा सीमित होता है। जैसे आपका अपना कमरा हो सकता है या फिर एक दफ्तर या कोई छोटी सी इमारत, स्कूल में भी होता है ये यूज।
लेकिन इसका उल्टा ही WAN होता है। वैन का अर्थ होता है वाइड एरिया नेटवर्क। और ये नेटवर्क बडा होता है जैसे बडी बडी इमारतों के बीच फैला हुआ नेटवर्क या पूरी कालोनी का एक ही नेटवर्क हो सकता है।

लोकल एरिया नेटवर्क में कम्प्यूटर एक दूसरे से आपस में केबल्स से भी जुड़े हुए हो सकते है या किसी खास सिग्नल के द्वारा भी जैसे wifi नेटवर्क। आपको इसके लिए कोई अन्य कनेक्शन ले की आवश्यकता नही होती। आप अगर इसे अपने कम्प्यूटर में Setup करना चाहते है तो LAN की केबल और उसके स्विच और कई सारी चीजें लगाकर काम चला सकते हैं।
Photo credit 
LAN नेटवर्क में आपस में सभी कम्प्यूटर जूडे होते हैं इसलिए आप कम्प्यूटर की फाइलों को आसानी से एक कम्प्यूटर से दूसरे में ले सकते हो। इससे आपका खर्च बहुत ही कम हो जायेगा।
LAN नेटवर्क की एक सबसे बडी खासियत ये भी है की आप कम खर्च करके और अपने सीमित दायरे में बहुत तेज स्पीड पा सकते हो।
आशा करता हूँ कि आपको जानकारी पसंद आयी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *