ये मोबाइल एप इमरजेंसी में देंगे आपका साथ! पढें पूरी जानकारी-


दुर्घटना कभी भी हो सकती है. इसलिए सावधानी व पूर्वतैयारी जरूरी है…


दुर्घटना या आपातकाल की स्थिति में आपको केवल मदद की आवश्यकता होती है लेकिन ऐसा जरूरी नहीं है कि मुश्किल की घडी में आपके आस-पास कोई हो या कई बार तो लोग होकर भी मदद के लिए नहीं आते हैं. ऐसे में आप अपने मोबाइल की मदद ले सकते हैं. इन विकट परिस्थितियों में मोबाइल और आपका एप मददगार साबित हो सकता है.

जानकारी के लिए बता दें कि इस समय कई कम्पनियों ने ऐसे एप बनाए हैं जिनका उपयोग इमरजेंसी पड़ने पर कर सकते हैं. हम कुछ ऐसे ही ऐप्स के बारे में चर्चा कर रहे हैं. साथ ही हम आपको ऐसी जानकारी देने वाले हैं जो कि आपको विकट काल में मदद करेंगे. इसके लिए आप खुद को सुरक्षित कर पाएंगे.

 

मोबाइल से मदद लें-

  1. आज के जमाने में हर किसी के पास मोबाइल नहीं बल्कि स्मार्टफोन है. इसके साथ-साथ हर कोई इंटरनेट का उपयोग कर रहा है. साथ ही सोशल मीडिया पर भी एक्टिव है तो फिर आप इनकी मदद ऐसे ले सकते हैं-
  2. नए जगहों पर जाने पर अपना गूगल मैप ऑन रखें ताकि लोकेशन आसानी से ट्रैस हो सके. किसी विकट परिस्थिति में आपको खोजा जा सके. या बुरी तरह फंसने पर आप पुलिस को कॉल कर मदद ले सकते हैं और गूगल मैप के जरिए एकजेक्ट लोकेशन शेयर कर पाएंगे.
  3. साथ ही बस ट्रेन में सफर करने के दौरान भी परेशानी होने पर पुलिस को सोशल मीडिया और कॉल कर के जानकारी दे सकते हैं.
  4. इसके अलावा यदि आप अपने शहर में हैं तो अपने स्थानीय थाना आदि का नंबर पास रखें.

एप  से मदद लें-

  • कुछ मोबाइल एप्स ऐसे हैं जो कि आपके लिए बेहद जरूरी हैं और आपको इनको अपने फोन में जरूर रखना चाहिए. यदि नहीं रखा है तो अभी इंस्टॉल कर लें-
  • ट्विटरः ट्विटर के जरिए आप देश-विदेश कहीं भी मदद ले सकते हैं और इस पर फौरन आपको मदद मिलती है. इसलिए ट्विटर अकाउंट बनाएं और इस एप को भी रखें.
  • ट्रांसपोर्ट एपः ओला, ऊबर आदि कैब के एप को भी डाउनलोड कर के रखना चाहिए क्योंकि कई बार देर रात पब्लिक गाड़ी ना मिलने या गाड़ी खराब होने पर इसको बुलाकर सुरक्षित स्थान पर जा सकते हैं.
  • बीसेफ अलार्म: बीसेफ अलार्म के साथ कौन कहां पर, क्या कर रहा है इस बात का पता लगाया जा सकता है. यह एप ऑटोमेटिक ही आपकी लोकेशन के साथ ऑडियो-विडियो भी भेज देता है. अलार्म एक्टिव होने पर रिकॉर्ड किया गया वीडियो अपने आप ही आपके पेरेंट्स या परिचितों के पास चला जाता है.
  • फॉलो मी एप : जीपीएस ट्रैकिंग पर काम करने वाला ये ऐप यूजर की लाइव पॉजीशन बताता है. इसकी मदद से आपके पेरेंट्स आपकी लाइव लोकेशन देख सकते हैं. जब आप सुरक्षित रूप से घर पहुँच जाते हैं तो यह आपके पेरेंट्स को इसकी सूचना दे देता है.
  • अलार्म: निश्चित समय में किसी काम को करने एवं उसको याद दिलाने के लिए आप सिंपली अपने फोन में अलार्म लगा लें.
  • आईसीइ: ICE कार्ड ऐप यह एप बचाव दल और डॉक्टरों द्वारा आवश्यक जानकारी को स्टोर करने का एक आसान तरीका है. यह एप निकटतम व्यक्तियों के संपर्कों की एक सूची के अलावा यूजर को दवाइयों, पिछली बीमारियों, एलर्जी और अन्य स्वास्थ्य संबंधी जानकारियों को स्टोर रखता है. इसमें एक ख़ास अलार्म बटन होता है जिससे एक ही साथ आप अपने सभी परिचितों को मेसेज भेज सकते हैं. यह आपकी लाइव लोकेशन भी आपके दोस्तों और परिचितों को बता देता है.
  • लोकल पुलिस एप: लोकल पुलिस ऐप के जरिये कानून और सार्वजनिक सुरक्षा सेवाएं आपकी जेब में हैं समझो. लोकल पुलिस ऐप को लोगों को अपने लोकल पुलिस से जोड़ने के लिए बनाया गया है, जिससे की ज्यादा से ज्यादा लोग समार्टफ़ोन की मदद से पुलिस की सहायता ले सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *