स्वतंत्रता दिवस 2018: सैनिकों के तीन मोबाइल ऐप से जुड़कर देशहित में करें योगदान!


स्वतंत्रता दिवस के 71 साल पर देश के सैनिकों को याद करने के साथ-साथ इनके मोबाइल ऐप को डाउनलोड करें। इनकी बहादुरी को सलाम करें और ऐप के माध्यम से जुड़कर इनके कल्याण की यात्रा में शामिल हों। बीजेपी सरकार बनने के बाद सैनिकों के विकास के लिए ये तीन ऐप बनाए गए हैं जो कि सैनिकों के लिए बेहद जरूरी हैं। तो वहीं हमें भी बहुत सारी जानकारियां देते हैं।


हमें आजादी मिले 71 साल हो गए हैं। इन्हीं सैनिकों के कारण हम आजादी की हवा को चैन से ले पा रहे हैं। ये ना होते तो आजादी नहीं मिलती और ना ही हम घरों में सकून से रहते और ना ही इंटरनेट पर मजा ले पाते। मतलब कि सैनिकों के कारण ही हम हर चीज का सुख भोग पा रहे हैं तो आइए इनसे जुड़े तीन ऐप के बारे में जानते हैं।

‘भारत के वीर’

ये मोबाइल ऐप और वेबसाइट है जिसके जरिए हर कोई जुड़ सकता है। जुड़ने के बाद इसके माध्यम से आप शहीदों के परिवार के दान कर सकते हैं। आप अपनी इच्छा से इन्हें अवश्य मदद करें। ये ऐप एक्टर अक्षय कुमार के पहल से सरकार ने बनाई है।

वेबपोर्टल और मोबाइल ऐप पर शहीद जवानों की सूची और उनके परिजनों संपर्क कायम करने की पूरी जानकारी मौजूद है। इसमें शहीद के किसी एक परिजन का बैंक खाता नंबर भी शामिल होगा जिससे कोई भी दानदाता बैंक खाते में सीधे राशि जमा करा सके।

किसी भी शहीद के परिजन के बैंक खाते में सहायता राशि जमा कराने की अधिकतम सीमा 15 लाख रुपए तय की गई है। यह सीमा पूरी होते ही संबद्ध शहीद के परिजनों की जानकारी वेबसाइट से स्वत: हट जाएगी। अधिकारी के मुताबिक सैन्य अभियानों में गंभीर रूप से घायल हुए जवानों की भी वेबसाइट पर जानकारी मुहैया कराने की योजना है।

डाउनलोड करें ऐप

‘भारत के वीर’ ऐप गूगल के प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। साथ ही वेबसाइट पर भी जाकर कर सकते हैं।

‘हमराज’

पिछले साल अगस्त में भारतीय सेना द्वारा ‘हमराज’ नामक एक मोबाइल ऐप्लिकेशन विकसित किया गया है। इस ऐप के माध्यम से सेवारत सैनिक अपनी तैनाती और पदोन्नति जैसे विवरण प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा इसके माध्यम से सैनिक अपनी मासिक वेतन पर्ची और फॉर्म 16 को भी देख सकते हैं और उन्हें डाउनलोड भी कर सकते हैं। सेना द्वारा विकसित यह ऐप जूनियर कमीशन प्राप्त अधिकारियों और अन्य व्यक्तियों को सूचना के त्वरित संचार हेतु जल्द लांच किया जाएगा।

सुरक्षा कारणों से ऐप का इंस्टॉलेशन आधारकार्ड के विवरण के सत्यापन से जोड़ा गया है। आधार विवरण सेना के डेटाबेस (राष्ट्रीय सूचना केंद्र) एनआईसी क्लाउड (NIC Cloud) से सत्यापित होगा और उन्हें पंजीकृत मोबाइल नंबर पर वन टाइम पासवर्ड दिया जाएगा। यहां से डाउनलोड करें।

‘अरमान’

ये मोबाइल ऐप भी सैनिकों के लिए सरकार ने लांच किया है। इसके जरिए सैनिक रैंक और अधिकारिक जानकारी ले सकते हैं। इसके साथ जुड़ने के लिए भारतीय होने के साथ-साथ आपको पुख्ता जानकारी देनी होगी। यहां डाउनलोड करें।

2 Replies to “स्वतंत्रता दिवस 2018: सैनिकों के तीन मोबाइल ऐप से जुड़कर देशहित में करें योगदान!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *