“प्राइवेट ब्राउज़िंग” क्या है, कैसे करें?

प्राइवेट ब्राउज़िंग कैसे करें

यदि आप अपने मित्र के कंप्यूटर या मोबाइल पर इन्टरनेट का प्रयोग कर रहे है, और नहीं चाहते कि बाद में वह अपने ब्राउज़र की हिस्ट्री में जाकर यह जानें कि आपने  कौन-कौन सी वेबसाइट खोली थी, तो आपको “प्राइवेट ब्राउज़िंग” के बारे में जानना होगा |


क्या है प्राइवेट ब्राउज़िंग?


“प्राइवेट ब्राउज़िंग” आजकल के सभी प्रमुख ब्राउज़र में उपलब्ध वह सुविधा है, जिसमे ब्राउज़र आपके इन्टरनेट प्रयोग का इतिहास अपनी “ब्राउज़र हिस्ट्री” में संचित नहीं करता, इसलिए आपके प्रयोग के बाद कोई भी यह नहीं जान पायेगा कि आपने कौनसी वेबसाइट खोली थी |

इसे “गुप्त मोड” भी कहा जाता है, यदि आप कंप्यूटर पर प्राइवेट ब्राउज़िंग शुरू करेंगे तो आपको क्रोम ब्राउज़र में सबसे पहले निम्न सन्देश दिखाई देगा :

इन्कोग्नितो मोड

इसके अतिरिक्त आपको अपने ब्राउज़र के कोने में गोपनीयता को प्रतिबिंबित करता निम्न संकेत भी दिखाई देगा :

प्राइवेट ब्राउज़िंग सेटिंग

कैसे प्रयोग करें प्राइवेट ब्राउज़िंग?

  • कंप्यूटर पर :
    • क्रोम ब्राउज़र के प्रयोग के दौरान : Ctrl+Shift+N, इन तीनो कीज को एक साथ दबाएँ
    • मोजिल्ला ब्राउज़र के प्रयोग के दौरान : Ctrl+Shift+P, इन तीनो कीज को एक साथ दबाएँ
    • इन्टरनेट एक्स्प्लोरर के प्रयोग के दौरान : Ctrl+Shift+P, इन तीनो कीज को एक साथ दबाएँ
    • ओपेरा ब्राउज़र के प्रयोग के दौरान : Ctrl+Shift+N, इन तीनो कीज को एक साथ दबाएँ
  • मोबाइल फ़ोन पर :
    • क्रोम ब्राउज़र पर जाएँ
    • क्रोम के टॉप-साइड मेनू पर क्लिक करें, मेनू आपको ऐसा  Menu या ऐसा  गुप्त मोड. नजर आएगा 
    • यहाँ “New incognito tab” पर क्लिक करें
      प्राइवेट ब्राउज़िंग वेब
    • ऐसा करने पर आपके सामने क्रोम ब्राउज़र इन्कोग्निटो मोड में खुल जायेगा, यानि प्राइवेट ब्राउज़िंग के लिए: 

आशा है ये जानकारी आपको उपयोगी लगी होगी, आप इस तरह की अन्य जानकारियों के लिए “हिंदी इन्टरनेट” के फेसबुक पेज पर जरुर लाइक करें >> https://www.facebook.com/hindiinternet

2 thoughts on ““प्राइवेट ब्राउज़िंग” क्या है, कैसे करें?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *