वॉट्सऐप को टक्कर देने के लिए गूगल ने लॉन्च किया खुद का नया मेसेजिंग ऐप- Allo

गूगल भी नये नये अपडेटस देता रहता है। गूगल यह भी दिखाता है की वह दुनिया में केवल अपने सर्च इंजन के लिए ही प्रसिद्ध नहीं है बल्कि वह भी अपनी अडवांस टैक्नोलॉजी से सभी के होश उडा सकता है।


Google new app allo review in hindi
Image source: Link

अब WhatsApp जैसा एप Allo किया लॉंच, और है इसमें कई और शानदार फ़ीचर

 

अभी ने अभी कुछ महीने पहले ही अपना एक विडीओ कॉलिंग एप – Duo मार्केट में उतारा था, आपको पहले बता दे कि गूगल के इस ऐप के डाउनलोडस 1 करोड़ से भी ऊपर हो गये हैं।
अब एक और ऐप निकाल दिया है गूगल ने जिसे नाम ऐलो (Allo)  दिया गया है। गूगल ने उसे लांच भी कर दिया है। कहा जाता है की इस आप मुकाबला फेसबुक और वॉट्सऐप से होगा।
जानकारी के अनुसार गूगल ने इसे ग्लोबली मार्केट में उतार दिया है और ये आपको आसानी से iOS और ऐंड्रॉयड पर मिल जायेगा। इसको दोनों ही स्टोरों पर अपलोड कर दिया गया है। आप अपने ऐप स्टोर पर जाकर इसे डाउनलोड कर सकते है।

इस ऐप के अन्दर ही आपको गूगल सर्च की सुविधा भी मिलती है। ये वैसे तो देखा जाये तो वॉट्सऐप की तरह ही है। इसे भी नम्बर एड करके चलाया जाता है। इसमें आप अपना गूगल अकाउंट्स भी लिंक्ड कर सकते हो।

इस Allo एप में है कई स्मार्ट फ़ीचर

WhatsApp की तरह मेसेगिंग के साथ इसमें,  Google Assistant नाम का फेरे है, जिसमें आर्टिफ़िशल इंटेलिजेन्स का इस्तेमाल करके आपके किसी भी सवाल का जवाब दिया जा सकता है।

गूगल के इस ऐप के अन्दर ही आपको जो सर्च इंजन की सुविधा दी आप उसका इस्तेमाल @google लिखकर कुछ भी सर्च कर सकते हो। इसमे सर्च करने के लिए किसी भी तरह के ब्राउजर को खोलने की जरूरत नहीं है।
गूगल ने सिक्योरिटी का भी खाश ध्यान रखा है।  इस ऐप में वॉट्सऐप की तरह ही एंड टू एंड एनक्रिप्शन दिया गया है। और एक दुखी करने करने वाली बात यह भी है इसमें की वॉट्सऐप की तरह ना तो आपको इसमें वॉयस कॉलिंग फीचर मिलेगा और ना ही डाक्युमेंट शेयर का फीचर आपको दिया जायेगा।
फिलहाल आगे आपको देखने को मिल सकता है। अभी के लिए तो ना ही है। इसकी एक बात खुश भी करती है और वो है इसके स्टिकर्स। स्टिकर्स को उसे चलाने वाले के देश के हिसाब से एड किये है।

2 thoughts on “वॉट्सऐप को टक्कर देने के लिए गूगल ने लॉन्च किया खुद का नया मेसेजिंग ऐप- Allo

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (23-09-2016) को "नेता श्रद्धांजलि तो ट्विटर पर ही दे जाते हैं" (चर्चा अंक-2474) पर भी होगी।

    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर…!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *