बच्चों का बैंक अकाउंट खुलवाने के लिए क्या नियम और शर्तें है, जानिए

bachchon ke liye bank account

बच्चों में बचपन से ही पैसे की समझ और बचत की आदत डालने का बेहतरीन तरीक़ा है कि उनके अपने नाम का ही बैंक अकाउंट खुलवा दिया जाए, जिसमें वे अपने जेबखर्च या अन्य बचत के पैसों को जमा करवा सकते है।


इसके अतिरिक्त बच्चों के बैंक अकाउंट के साथ भी डेबिट कार्ड, चेक बुक और इंटरनेट बैंकिंग जैसी सुविधाएँ भी मिलती है, जिसके माध्यम से कम उम्र में ही बच्चे बैंकिंग के इन कार्यों में पारंगत हो सकते है।

आइए जानते है बच्चों के लिए बैंक खाता खुलवाने के नियम और प्रक्रिया

  • 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों का अपने अभिभावक के साथ “जोईंट अकाउंट” खुलवाया जा सकता है, लेकिन 10 वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों का ख़ुद अपने नाम का बैंक खाता खुलवाया जा सकता है।
  • बच्चों के खातों में दैनिक और मासिक लेन-देन की सीमा तय होती है, तो सभी बंकों में अलग अलग होती है, जैसे आईसीआईसीआई बैंक में यह सीमा 5000/- रुपए प्रतिदिन है।
  • बच्चों के बैंक अकाउंट के लिए निम्न डॉक्युमेंट की आवश्यकता होती है:
    • बच्चों के आई डी प्रूफ़ और ऐड्रेस प्रूफ़ (जैसे आधार कार्ड)
    • बच्चों का पासपोर्ट साइज़ फ़ोटो
    • स्वघोषणा (बच्चे द्वारा)
    • अभिभावक का परिचय और ऐड्रेस प्रूफ़ और स्वघोषणा (यदि आवश्यक है तो)
  • इन अकाउंट पर भी सामान्य अकाउंट की ही तरह “न्यूनतम बैलेन्स”, अतिरिक्त चेक बुक,  कैश विथड्रॉ करने की शर्तें और चार्ज तय होते है, जो सभी बंकों के लिए अलग अलग होते है।
यदि आप भी अपने बच्चों को पैसे के मामले में समझदार बनाना चाहते है, तो किसी भी उम्र के बच्चे का अपने नज़दीकी बैंक में जाकर बैंक अकाउंट बड़ी आसानी से खुलवा सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *