ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में रखने के उपाय, जानिए

blood pressure low karne ke upaaye

आज कल का ज़माना दिन ब दिन बदलते जा रहा है और स्मार्ट बनता जा रहा है साथ ही जिससे खान-पान पर भी सीधा असर पड़ता है। देश में कई जगहों पर मिलावटों के चलते छापे मारी भी की गयी है क्योंकि मिलावटी खान-पान के चलते लोगो को कइयों बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है जिसमे ब्लड की प्रेशर की बीमारी सबसे ऊपर लेवल पर है।


ब्लड प्रेशर की बीमारी दिन ब दिन बढ़ते ही जा रही है जिसे रोकना ना-मुमकिन सा हो गया है। अध्ययन की माने तो हर 10 में  से 8 लोगो को ब्लड प्रेशर की बीमारी हैं।आज हम आपको इस पोस्ट के जरिये ब्लड प्रेशर को लो करने का अहम् तरीका बताने वाले है जिससे आपको काफी मदद मिलेगी और  साथ ही आपको ब्लड प्रेशर से रिलेटेड कुछ बाते भी जानने को मिलेगी तो आइये जानते है कि ब्लड प्रेशर को संतुलित में रखने वाली बातें क्या है

इन तरीकों से रखे अपने ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में:

● आर्टरी दुरुस्त रहेगी 
एक अध्ययन में ये पाया गया है कि एक कप ब्लूबेरी खाने से आर्टरी दुरुस्त रहती है और ब्लूबेरी खाने से आपको कब्ज़ की बीमारी नही होगी।
● दिल की धड़कन समांतर रहेगी
 

 

अगर आप धीरे धीरे आराम से सांस लेते है तो आपके शरीर को भी आराम मिलता है जिससे सीधे आपके ब्लड प्रेशर पे असर पड़ता है और साथ ही आपका ब्लड प्रेशर कम होता है। ब्रीदिंग एक्सरसाइज करने से हार्ट बेहतर होती है और आर्टरी फ्लेक्सिबल होती है।
● कैफीन से बढ़ जाती है सेंसिटिविटी
कुछ लोग कैफीन के प्रति ज्यादा सेंसिटिव होते है जो कॉफ़ी में पायी जाती जिसके ज्यादा सेवन करने से हार्ट रेट और ब्लड प्रेशर दोनों बढ़ जाता है इसलिये आप अगर आपको हाई बीपी की शिकायत है तो इससे बचिये।
 
● रक्त संचार में मिलती है मदद 
चाय पीने से ब्लड प्रेशर दुरुस्त होता है और रक्त शिराओं को आराम मिलता है, एक अध्ययन में ये पाया गया है कि 2.6 mmHg सिस्टोलिक और 2.2 mmHg डिस्टोलिक हो जाता है, हाई ब्लड प्रेशर हो तो ग्रीन-टी सबसे अच्छा विकल्प है।
तो दोस्तों इन तरीको से आप , अपना ब्लड प्रेशर लो क्र सकते हो उम्मीद है यह पोस्ट आपके लिए लाभदायक साबित होगी।
धन्यवाद

One thought on “ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में रखने के उपाय, जानिए

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (05-03-2017) को
    "खिलते हैं फूल रेगिस्तान में" (चर्चा अंक-2602)
    पर भी होगी।

    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।

    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर…!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *